Newton biography in hindi न्यूटन की जीवनी

दोस्तों जब भी हम पढाई शुरू करते है तोह किताबो में एक ऐसा नाम देखते है जिसने चारो और करिश्मा करके दिखा दिया है,ये नाम है न्यूटन जिनके नाम को एक बच्चा बचपन से ही पढता आता है,हर कोई सोचता है की एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक थे लेकिन उनकी जिन्दगी किन मुशिवातो से गुजरते हुए यहाँ तक पहुची ये कोई भी नहीं सोचता,आज हम इसी महान वैज्ञानिक newton के जीवन के बारे में पढेंगे.

प्रारम्भिक जीवन

newton का जन्म क्रिशमिस वाले दिन २५ दिसम्बर १६४२ में इंग्लॅण्ड में हुआ था,इनकी कहानी बहुत ही दुखभरी(Sorrowful) है ,जब इनका जन्म(Birth) हुआ तोह जन्म के 3 month पहले ही इनके पिता का देहांत हो गया था,इसके आलावा इनका जन्म समय से पहले ही हो गया था जिस कारण ये बहुत ही कमजोर हुए और इनका बच पाना भी संभव नहीं था लेकिन शायद ऊपर वाला चाहता था की ये दुनिया में कुछ करिश्मा कर जाए तोह ये बच ही गए,उनके सर पर पिता का साया नहीं था,सोचिये उस बच्चे और उसकी माँ पर क्या बीती होगी.

इतना ही नहीं जन्म के कछ समय बाद इनकी माँ ने दूसरी शादी(Second marriage) कर ली और इनको दादी के पास छोड़ दिया,ये बचपन में अपनी माँ से दूर रहे,सोचिये क्या बीती होगी इन पर,newton को इनके सोतेले पिता बिलकुल भी अच्छे नहीं लगते थे.

इन्होने schhooling कम्पलीट की,और college में दाखिला लेने के लिए apply किया इन्हें बचपन से ही गणित(Mathematics) पड़ने का  का बहुत ही शौक(Hobby) था,लेकिन जिस कॉलेज में इन्हें दाखिला मिला उस कॉलेज में गणित नहीं पढाते थे,तोह इनका पढाई में मन नहीं लगा,और इन्हें कॉलेज से निकाल दिया गया,कुछ टाइम बाद कॉलेज के प्रिंसिपल ने इन्हें कॉलेज में बुलाया.इसके बाद इनका पढाई में मन बहुत ही अच्छे से लगा और ये कॉलेज में topper student रहे.

इसी बीच इनके माँ के दुसरे पति का भी देहांत हो गया,इनकी आर्थिक स्थिति बेहद ही गंभीर थी.

इनके बारे में भी जरुर पढें-thomas edison biography in hindi

कॉलेज का जीवन और रिसर्च

ये जब कॉलेज में थे तोह इनके पास कॉलेज की फीस चुकाने के लिए रूपये नहीं थे तोह ये कॉलेज का पूरा काम किया करते थे,जिससे इनकी फीस चुक जाती थी.

ये बचपन से ही सूरज की रौशनी(Luz solar) से बहुत ही आकर्षित होते थे,और ये सोचते थे की आखिर पृथ्वी सूर्या के चक्कर क्यों लगाती है और चन्द्रमा पृथ्वी के चक्कर क्यों लगाते है.एक बार ये एक पेड़ के नीचे बेठे हुए थे,तोह इनके ऊपर फल गिर गया तोह इसी समय इन्होने सोचा की आखिर एसा क्या है की पेड़ से गिरा हुआ फल ऊपर नहीं जाता है ,बल्कि नीचे गिरता है,तभी इन्होने कुछ साल इस पर रिसर्च करने की कोशिश की और रिजल्ट दुनिया के सामने रख दिये,इन्होने गुरुत्वाकर्षण बल की खोज की,जिसमे इन्होने दुनिया को बताया की पृथ्वी में गुरुत्वाकर्षण बल होता है जो किसी भी चीज को अपनी और खीचता है.

इसके आलावा इन्होने हमें बहुत से सिद्धांत भी दिए,कुछ प्रमेय भी दी जो हम maths में पढते है,इन्होने हमें द्वीपद प्रमेय दी जो गणित के लिए सबसे महत्वपूर्ण प्रमेय है,इसे गणित का एक हिस्सा कहा जाता है.इसके आलावा इन्होने हमें पाई का मान निकालने के लिए नया फार्मूला दिया जो बहुत ही अच्छा है.

इसके आलावा भी इन्होने हमें बहुत कुछ बताया की सफ़ेद प्रकाश वास्तव में बहुत सारे रंगों के प्रकाश से मिलकर बना होता है.और भार,द्रव्यमान के बारे में भी इन्होने हमे समझाया.

प्रकाश के रंगों की खोज में newton की एक घटना काफी प्रसिद्ध है,एक बार newton के दिमाग में रंगों से प्रकाश के रंगों के सम्बन्ध में जानने का मन हुआ तोह उन्होंने सूर्य की और देखना शुरू कर दिया,वोह काफी देर तक सूर्य की और देखते रहे तभी उनका एक दोस्त आया और उनसे कहा की सूर्य की और क्यों देख रहे हो तोह newton ने पूरी बात बतायी तोह उनका दोस्त कहने लगा की इस तरह से तुम प्रकाश की और देखते रहे तोह तुम्हारी आँखे खराब हो जायेंगी लेकिन newton के ऊपर तोह इस बारे में खोज करने का भूत सबार था,वोह तोह बस सूर्य की और देखते ही रहे तभी अचानक ही उनकी आँखों में दर्द हुआ और उनका दोस्त उन्हें एक कमरे में ले गया और उन्हें आराम करने को कहा,आखिर उनकी आँखे तोह ठीक हो गयी लेकिन उन्होंने ये करके रंगों के बारे में काफी कुछ सीख लिया था,इस तरह के अलग अलग रिसर्च उन्होंने अपने जीवन में किये,और हमें बहुत सी बातो का ज्ञान कराया.

तोह इस तरह से एक साधारण से व्यक्ति ने अपने सोच के जादू(Magic of Thinking) से एक एसा करिश्मा कर दिखाया की जब तक ये दुनिया रहेगी ,हम सभी न्यूटन को याद करते रहेंगे क्योकि एक इन्सान की पहचान उसके काम से की जाती है और newton के द्वारा किये गए काम अतुलनीय है,वोह हमारे लिए एक महान वैज्ञानिक है.

अगर आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आई हो तोह इसे शेयर जरुर करे और हमारी अगली पोस्ट सीधे आपके मेल पर पाने के लिए इसे subscribe जरुर करे और हमारा फेसबुक पेज like करना ना भूले.

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.