एक मजदूर कैसे बना डॉक्टर real life inspirational stories in hindi

दोस्तों कहते है life में success होने के लिए सबसे ज्यादा पैसे की नहीं बल्कि सच्ची लगन की जरुरत होती है,आज में आपको जिस शख्स की कहानी सुनाने जा रहा हु उनकी कहानी जानकार आप यकीन कर सकेंगे की एक इन्सान की sachchi lagan और अच्छी सोच उसको दुनिया में काफी आगे ले जा सकती है.

majdoor kaise bana doctor “real life inspirational stories in hindi”                                                                                                                     

आज की कहानी एक ऐसे ही महान शख्स की है जिसके पास पैसे नहीं थे फिर भी उसने एक ऐसा मुकाम हासिल किया जिसे पाना बहुत ही मुश्किल है,डॉ प्रेम शंकर जिन्हें एमसीएच प्लास्टिक सर्जरी में लखनऊ के समारोह में गोल्ड मैडल से सम्मानित किया गया.

डॉ प्रेम शंकर की जीवनी

ये लखनऊ के मोहनलालगंज तहसील के गाव कल्ली के रहने वाले है,ये बहुत ही गरीब family से थे,गरीबी के हालात होने के कारण इन्होने बड़ी मुश्किल से पढाई की,लेकिन पढाई में इनका मन बहुत ही अच्छा था,इन्होने 8 वी तक पढाई की और इसके बाद इनके परिवार की जिम्मेदारी इनके सर पर आ गयी,ये अपने पापा के साथ मजदूरी करने के लिए जाने लगे.

आपने देखा होगा की चौराहे पर मजदूरो की मंडी लगी होती है,उसी तरह ये भी मंडी का हिस्सा थे,घंटो तक प्रतिच्छा करते थे की कोई उन्हें मजदूर के रूप में कुछ काम देदे,वोह लोगो के आलिशान घर बनाने के लिए ईट-गारा और गिट्टी ढोने का काम करते थे,वोह अपनी मजदूरी से घर का खर्चा चलाने लगे,वोह रात में पढाई करते और दिन में मजदूरी करते,उन्होंने दिल से पढाई की तोह सीपीएमटी में अच्छी रैंक आई,इसके बाद उन्होंने एक मेडिकल college में एमबीबीएस करने के लिए एड्मिसन ले लिया,उन्होंने एमबीबीएस प्रथम श्रेणी में पास किया,इसके बाद एम् एस की डिग्री हासिल की.
उनकी ये कामयाबी देखकर सभी बहुत ही खुश हुए लेकिन ये ख़ुशी और ज्यादा तब बड़ गयी जब उन्होंने एमसीएस जेसी डिग्री में गोल्ड मैडल जीत लिया,दरह्सल एमसीएस एक प्लास्टिक सर्जरी की डिग्री है,पहले मजदूरी करने वाला ये इन्सान आज लोगो के कटे फटे अंगो को जोड़ता है.
जेसे की अगर किसी के ऊपर एसिड अटैक किया गया है तोह उस इन्सान के चेहरे,नैन नक्श को ठीक करने में ये सबसे आगे है,और आज ये एक बहुत ही प्रतिष्ठित डॉक्टर बन चुके है,इनके इस सफ़र से हम सबको एक ही प्रेरणा मिलती है की sapne देखिये,अगर आप sapne देखने का दम रखते है तोह कामयाबी आपके कदम चूमेगी,और आप भी इन डॉक्टर की तरह gareebi से ameeri तक का सफ़र तह कर सकेंगे,और दुनिया में एक पहचान बना सकेंगे.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.