देश के प्रति हमारा कर्तव्य “desh ke prati hamara kartavya essay in hindi”

Desh ke prati hamara kartavya essay in hindi

desh ke prati hamara kartavya essay in hindi-हेलो फ्रेंड्स कैसे हैं आप सभी दोस्तों आज हमारा टॉपिक है desh ke prati hamara kartavya essay in hindi दोस्तों आज हम इस देश में रह रहे हैं तो हमें हमारे कर्तव्य के बारे में पता होना चाहिए

आज की पोस्ट स्पेशली इसलिए लिखी गई है कि हर इंसान अपने कर्तव्य से अवगत हो,आज हम देखें तो हमारे देश में बहुत सारी परेशानियां हैं गरीबी हैं अनपढ़ता है और बेरोजगारी भी है इसके अलावा भी बहुत सारी समस्याएं है,देखा जाए तो कहीं ना कहीं इन सारी समस्याओं के लिए हम भी जिम्मेदार हैं अगर हम हमारे देश के प्रति हमारा कर्तव्य समझे तो यह पक्का है कि हमारा देश विकास की एक नई ऊंचाई पर होगा.

हमारे देश में चारों ओर विकास की लहर लहराएगी इसलिए हमारे देश के हर एक नागरिक को अपना कर्तव्य समझना चाहिए और जिस दिन नागरिक अपना करतब समझेंगे उस दिन से हमारे देश की एक अच्छी शुरुआत होना शुरू हो जाएगी,अब एक बात में इस निबंध के जरिए और कहना चाहूंगा.हमारे देश में चारों ओर भारस्ताचार फेला है.हमारे प्रधानमंत्री जी ने देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए नोट बंदी जैसा कड़ा फैसला लिया देखा जाए तो वह बहुत सही है लेकिन हमारे देश के कुछ नागरिक अपने देश के प्रति कर्तव्य को भूल कर बेईमानी के रास्ते पर चल पड़े है,अगर हमारे देश में ऐसा होगा तो हमारे देश का विकास नहीं हो सकेगा.
ये भी पढें-मध्यप्रदेश पर निबंध

आज हम चारों ओर देख रहे हैं की बहुत सारे सरकारी कर्मचारी उन लोगों से घूस ले रहे हैं रिश्वत ले रहे हैं. क्या यही हम हमारे देश के प्रति कर्तव्य निभा रहे हैं दोस्तों इसमें जिम्मेदार सिर्फ वह सरकारी आदमी नहीं है जिम्मेदार आम आदमी भी है रिश्वत लेने वाला और देने वाला भी जिम्मेदार है और रिश्वत देने वाला भी उतना ही जिम्मेदार है क्योंकि लोग अपना कर्तव्य भूल जाते हैं डॉक्टर इंजीनियर लॉयर या फिर बैंक के कर्मचारी क्या इसके अलावा और भी सरकारी लोग इसको अपनाते हैं वह अपने कर्तव्य पर नहीं चलते हैं तो हमारे देश को पूरे देश को इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है क्योंकि कहीं ना कहीं हम इन लोगों पर ही पूरी तरह से जिम्मेदार होते हैं.

दोस्तों इसके अलावा हम देखें तो हमारा कर्तव्य भी है कि हम हमारे चारों ओर अपने वातावरण को स्वच्छ रखें साफ सफाई रखें.बहुत सारे लोग तंबाकू गुटखा खाकर इधर-उधर थूक देते हैं उनको अपने कर्तव्य का बोध होना चाहिए हमारा कर्तव्य है कि हम हमारे पूरे देश को स्वच्छ बनाए रखें.हम जो भी काम करें पूरी लगन से करें और ऐसा ना सोचे कि यह काम आप सिर्फ अपने परिवार के लिए कर रहे हो बल्कि आप सोचे कि काम आप अपने पूरे देश के लिए कर रहे हैं यानी आप जो भी करोगे उसका पूरा फर्क अपने पूरे देश पर होगा इसलिए आप पूरी ईमानदारी और लगन से अपना काम करें तो हमारे देश का विकास होगा और हमारा देश नई ऊंचाई पर जाएगा.

इसके अलावा हम हमारे हर एक कर्तव्य का पालन करें.आज हमारे देश में जब भी चुनाव होतो हर एक नागरिक का कर्तव्य होता है कि वह चुनाव मैं वोट जरुर डाले जिसे हमारे देश को एक अच्छा और महान देश की सेवा करने वाला नेता मिले लेकिन कुछ लोग तो यही सोचकर वोट नहीं डालते कि हमारे अकेले डालने से क्या सामने वाला जीत जाएगा यही सोच कर हम वोट नहीं डाल पाते और एक इंसान की गलती से बहुत कुछ होता है क्योंकि बदलाव तभी होगा जब आप बदलाव लाने की कोशिश करोगे अगर आप जैसा ही हर इंसान सोचने लगे तोह हमारे देश में वोट डालने के लिए कोई भी नहीं जाएगा इसलिए आप अपना अमूल्य वोट किसी अच्छे नेता को देने की कोशिश कीजिए और हमारे देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाइए,दुनिया में अगर कोई देश प्रगति करता है और इसमें अगर कोई जिम्मेदार है तो पक्का है उसमें देश के नागरिक हैं इसलिए आप अपने देश के प्रति कर्तव्य को निभाएं और देश को ऊंचाई पर ले जाए.

दोस्तों अगर हमें देश को उन्नति दिलाना है तो हमें अपने बच्चों को भी अच्छी शिक्षा दिलाना जरूरी है किसी ने कहा है कि अगर किसी इंसान के ज्ञान नहीं है यानी कोई शिक्षित नहीं है तो वह पशु के समान है इसलिए आप अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाये. चाहे वह लड़का हो चाहे वह लड़की हो हर एक को अच्छी शिक्षा दिलाइये और आजकल तो सरकार ने भी बच्चे बच्चियों को अच्छी शिक्षा दिलाने के लिए काफी अच्छे कदम उठाए हैं और गांव गांव तक स्कूलों का विकास करवाया है आप को समझना होगा जब हमारे देश का हर एक बच्चा पढ़ा लिखा होगा तो उसमें सही और गलत को समझने की प्रवृत्ति होगी और वो हमारे देश के कर्तव्य को समझेगा.

इसके अलावा हमको हमारे कर्तव्यों का पालन करते हुए कभी भी लड़कियों को अलग नहीं समझना चाहिए उनको बोझ नहीं समझना समझना चाहिए उनको भी लड़कों के समान सम्मान देना चाहिए और बच्चे बच्चियों को अच्छी सच्चा इन्सान बनाना चाहिए तभी हमारा देश उन्नति कर सकेगा

हमारे भारत के हर एक नागरिक को देश के प्रति कर्तव्य को निभाना चाहिए और समझना चाहिए चाहे वह डॉक्टर हो इंजीनियर हो वकील हो शिक्षक हो नेता या कोई आम इंसान हो कोई भी हो,हर एक का फर्ज बनता है अपने हर एक काम को अच्छे ढंग से करना और पूरी ईमानदारी के साथ करना तभी हमारे देश का विकास हो सकेगा.हमारा कर्तव्य बनता है की अगर कोई व्यक्ति हमसे कुछ गलत काम करने की कहता है या रिश्वत लेने या रिश्वत देने की बात करता है तो हमें जरूरत है उस इंसान की शिकायत करने की क्योंकि एक समझने वाली बात है अगर हमने एक इंसान को भी छोड़ दिया तो लोगों को इस तरह की आदत लग जाएगी.

ये भी पढें-परिश्रम ही सफलता की कुंजी है पर निबंध

हमको हमारी सरकार तक इस तरह की बातें पहुंचानी चाहिए जिससे इसमें कुछ सुधार हो सके और हमारे देश का विकास हो सके दोस्तों देश के प्रति हमारे कर्तव्य पर मैंने काफी कोशिश की कि अच्छा निबंध लिख सकूं मुझे कमेंट के जरिए बताइए आपको हमारी पोस्ट desh ke prati hamara kartavya essay in hindi कैसी लगी और हमारा facebook पेज लाइक करना ना भूलें अगर आप चाहे तो हमारा ईमेल सब्सक्राइब कर सकते हैं जब भी हमारी कोई नई पोस्ट आएगी तो आपकी ईमेल पर तुरंत मेल आ जाएगा.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.