विमुद्रीकरण पर निबंध “Demonetization essay in hindi”

Demonetization essay in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी का हमारा टॉपिक है Demonetization(vimudrikaran) essay in hindi दोस्तों सबसे पहले हम यह जानते हैं
कि विमुद्रीकरण क्या है,भारत सरकार द्वारा समय समय पर भ्रष्टाचार,कालाधन के खिलाफ नोटबंदी करना विमुद्रीकरण कहलाता है दोस्तों विमुद्रीकरण हमारे देश के लिए अति आवश्यक है क्योंकि हमारे देश में बहुत ही तेजी से चारों तरफ भ्रष्टाचार फैला हुआ
है
Demonetization essay in hindi

लोग इस भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों से बहुत परेशान हो गए हैं वह इसके खिलाफ आवाज उठाना चाहते हैं लेकिन उनकी आवाज सुनने वाला कोई भी नहीं है,विमुद्रीकरण किसी भी देश के लिए एक बहुत ही अच्छा फैसला माना गया है इसके अलावा हमारे देश में काला धन है काला धन को निकालने के लिए विमुद्रीकरण बहुत अच्छा फैसला है हम सभी को विमुद्रीकरण को समझना चाहिए और देशहित के बारे में सोचते हुए इसका साथ देना चाहिए,हमारे भारत देश में समय-समय पर विमुद्रीकरण होता आया है क्योंकि विमुद्रीकरण से एक लाभ नहीं बल्कि बहुत सारे लाभ होते हैं.
इन्हें भी पढिये- धरती माँ पर निबंध  मेरा प्रिय नेता नरेन्द्र मोदी पर निबंध

हमारे देश में 8 अक्टूबर 2016 को विमुद्रीकरण हुआ जिसमें 500 और 1000 के नोट पूरी तरह से बंद कर दिए गए हलाकि लोगों को 31 दिसंबर तक बैंकों में अपना रुपए जमा करवाने का समय दिया गया इसके अलावा 31 मार्च तक रिजर्व बैंक में नोट बदलने का समय दिया गया,इस नोटबंदी से बहुत सारी परेशानी हुई लेकिन बहुत सारे लोगों को इससे फायदा भी हुआ,जब भी कोई बड़ा फैसला होता है तो बहुत सारे लोगों को नुकसान तो होता है लेकिन इसका बहुत बड़ा फायदा भी होता है यही फायदा हमें नरेंद्र मोदी जी के विमुद्रीकरण के फैसले के बाद नजर आया,विमुद्रीकरण हमारे देश में समय समय पर होता रहा है इससे पहले सन 2005 में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी के द्वारा 2005 से पहले के 500 के नोटों का विमुद्रीकरण किया गया जिससे बहुत लाभ हुआ,विमुद्रीकरण हर देश के लिए आवश्यक होता है इससे पहले सन 1978 और 1946 में भी विमुद्रीकरण किया गया,इन सबके खिलाफ बहुत से लोग सामने आए लेकिन फिर भी विमुद्रीकरण नहीं रुका,विमुद्रीकरण हमारे देश के लिए अति आवश्यक है और समय-समय पर अगर विमुद्रीकरण होता रहा तो हमारा देश भ्रष्टाचार और कालाधन से कुछ हद तक निजात पा सकेगा.

हमारे देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 2016 को जब नोटबंदी जैसा कड़ा फैसला लिया तो बहुत सारे लोगों ने इसका विरोध किया,कुछ लोगों ने इसके खिलाफ रेलियां निकाली बहुत सारे लोगों ने श्री नरेंद्र मोदी जी के खिलाफ अपशब्द कहे लेकिन नोटबंदी जैसा फैसला नहीं रुका और पूरी जनता ने उनका समर्थन किया,भले ही इस नोट बंदी के फैसले से कुछ लोगों को नुकसान हुआ हो लेकिन इसका बहुत फायदा भी है नोटबंदी के इस फैसले को देखते हुए एक दुसरे देश ने नोटबंदी जैसा कड़ा फैसला लिया लेकिन एक हफ्ते में ही उस फैसले को उस देश ने वापस ले लिया क्योंकि बहुत सारे लोग मरने लगे वहां के लोगों को बहुत नुकसान हुआ लेकिन हमारे देश का नोटबंदी का फैसला कामयाब रहा और श्री नरेंद्र मोदी जी ने सिद्ध कर दिया कि वह हमारे देश के प्रधानमंत्री बनने के योग्य हैं और उनकी छवि के कारण आने वाले चुनावों में उनकी सरकार भारी बहुमत से जीती,

ज्यादातर हमारे देश की जनता नोटबंदी के फैसले को बहुत ही अच्छा फैसला मान रही है क्योंकि यह फैसला किसी राजनेता या किसी के भले के लिए नहीं बल्कि हमारे देश के भले के लिए है,विमुद्रीकरण हर एक देश को करना चाहिए क्योंकि इससे एक नहीं बल्कि कई लाभ होते है.दोस्तों विमुद्रीकरण से बहुत सारे देशों के नकली नोटों के कारोबार पर बुरा असर पड़ता है जिससे हमारे देश को फायदा होता है हमारे देश में जो नकली नोट आते हैं विमुद्रीकरण के कारण नकली नोटों के कारोबारियो को सड़क पर आ जाना पड़ता है जिससे हमारे देश को आर्थिक ही नहीं बल्कि कई तरह से लाभ होता है,आज हमारे देश में लोग अपने कुछ लाभ के लिए या खुद के स्वार्थ के लिए सरकार को दिया जाने वाला पैसा छुपा लेते हैं जिसे काला धन कहते हैं उस पर लगाम लगाई जाती है.

हमारे देश में विमुद्रीकरण के फैसले के बाद पैसा नदियों में बहता हुआ दिखता है और अमीर गरीब और गरीब अमीर बनता हुआ दिखता है,विमुद्रीकरण का फैसला हमारे देश के लिए अति आवश्यक है.विमुद्रीकरण के फैसले के कारण बहुत सारे ऐसे कारोबारी जो कि दूसरों को नुकसान पहुंचाकर या रिश्वतखोरी का काम करते-करते अमीर बनते हैं वह रातोरात सड़क पर आ जाते हैं,विमुद्रीकरण का फैसला हमारे देश के लिए एक ऐसा फैसला है जिसके बाद चारों तरफ खुशी ही खुशी होती है लेकिन विमुद्रीकरण के फैसले के साथ में बहुत सी सावधानी भी होना चाहिए सरकार को देश की जनता को सुरक्षित रखने के लिए विमुद्रीकरण से पहले कुछ इंतजाम करना चाहिए जिससे हमारे देश की जनता को कुछ ज्यादा परेशानी का सामना ना करना पड़े,अगर विमुद्रीकरण के फैसले के बाद जनता के लिए कुछ उचित व्यवस्था सरकार ने नहीं की तो यह पक्का है की हमारे देश को बहुत नुकसान हो सकता है या हमारे देश की जनता बहुत ज्यादा मुसीबत में आ सकती है इसलिए विमुद्रीकरण से पहले सरकार की जिम्मेदारी है कि जनता का विशेष ध्यान रखें कि उसको ज्यादा परेशानी का सामना ना करना पड़े.

दोस्तों विमुद्रीकरण का फैसला बहुत ही अच्छा फैसला है बस इसको सही तरह से उपयोग में लाना चाहिए और इससे पहले कुछ इंतजाम कर लेने चाहिए,इस फैसले के बाद सरकार की ही नहीं बल्कि आम लोगों की भी जिम्मेदारी होती है कि वह बैंकों में अपने बुजुर्ग लोगों या फिर बीमार दुखी लोगों को ना पहुंचाएं क्योंकि इससे वह परेशानी का सामना करके मुसीबत में आ सकते हैं या फिर उनकी मौत भी हो सकती है इसलिए अगर आपको विमुद्रीकरण के बाद पैसा वापस करना है तो खुद जाएं और पैसा बदल कर अपने घर लाएं दोस्तों विमुद्रीकरण वाकई में हर देश के लिए बहुत ही आवश्यक है और हमको इस फैसले के साथ सरकार का सहयोग करना देना चाहिए जिससे हमारे देश में भ्रष्टाचार कालाधन और आतंकवाद जैसी परेशानी से मुक्त होने में सरकार मदद दे सके.

अगर आपको हमारी पोस्ट Demonetization essay in hindi पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पर लाइक करना न भूले और हमें कमेंट्स के जरिए बताइए ये पोस्ट vimudrikaran essay in hindi आपको पोस्ट कैसी लगी.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.