मेरी माँ पर निबंध “Meri pyari maa essay in hindi”

Meri pyari maa essay in hindi

Meri pyari maa essay in hindi-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों आज का हमारा आर्टिकल Meri pyari maa essay in hindi  आप सभी को बहुत ही अच्छा लगेगा.दोस्तों हम आपके लिए बहुत से निबंध प्रस्तुत कर चुके हैं जिन की जानकारी यहां पर क्लिक करके ले सकते हैं
आज का हमारा निबंध भी आपकी हेल्प के लिए लिखा गया है. आप स्कूल कॉलेजों में लिखने के लिए इस निबंध की मदद ले सकते हैं चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के इस निबंध को
Meri pyari maa essay in hindi
Meri pyari maa essay in hindi
दुनिया में बहुत से रिश्ते होते हैं जो हमको बहुत प्यारे होते हैं जो हमारे लिए बहुत ही जरूरी होते हैं और इन सभी रिश्तो में अगर कोई सबसे बड़ा रिश्ता इस दुनिया में कोई होता है तो वह एक मां का रिश्ता होता है.मां का रिश्ता जिसमें कोई भी लोभ, लालच नहीं होता.मां अपने बच्चे के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होती है मां देवी का अवतार होती है अगर मां नहीं होती तो यह दुनिया नहीं होती.हर इंसान की जिंदगी में मां शब्द दुनिया का सबसे बड़ा शब्द होता है यह रिश्ता दुनिया का सबसे बड़ा रिश्ता होता है.एक व्यक्ति को जब चोट लगती है तो दर्द मा को होता है.मेरी मां भी कुछ ऐसी है बहुत प्यारी.मेरी मां हर मां की तरह मुझे बहुत प्यार करती है वह मेरा बहुत ख्याल रखती है वह मुझे सुबह जल्दी जगाती है.सुबह मेरे लिए मेरी पसंद का नाश्ता बनाती है और नहाने के बाद मुझे भगवान को प्रणाम करने की सलाह देती है.
मेरी मां मेरे जीवन के लिए सबसे ज्यादा महत्व है आज मैं अपने जीवन में जितना भी सफल हुआ अपनी मां की बदौलत हुआ हूं क्योंकि मा ने मुझे अच्छी बातें बताई,अच्छे अच्छे संस्कार मुझे दिए जिन्हें पाकर मैं बहुत ही खुशी महसूस करता हूं.मेरी मां हमेशा मुझसे कहती है कि बेटा तू जो भी कर रहा है बस वह अच्छा होना चाहिए.अगर मुझे कभी कुछ हो जाता है तो मां को बेहद दुख होता है मेरी मां मेरी देख रेख के लिए मेरे पास बैठी रहती है उसे नींद नहीं आती क्योंकि मेरी तबीयत खराब होती है.
माँ बचपन में मेरी पढ़ाई करने में भी मदद करती थी,मुझे मेरी मां ने सुबह जल्दी पढ़ाई करने की जानकारी दी इसके फायदों के बारे में भी मुझे बताया. मेरी मां हमेशा मेरी हेल्प करती है,मैं जो चाहता हूं वह मुझे वह देती है क्योंकि मेरी मां के लिए मेरी खुशी से बढ़कर कुछ भी नहीं है.मेरी मां बहुत ही प्यारी है वह बहुत ही प्यार से मुझे जगाती है बचपन में वह मुझे लोरी गाकर प्यार से सुलाती थी मुझे बहुत ही खुशी महसूस होती थी मैं अक्सर उसकी गोद में लेट कर सोया करता था.
मेरी मां मेरी सबकुछ थी वह मेरी भगवान थी. मैं अपनी मां की खुशी के लिए उनके अच्छे के लिए सब कुछ कर सकता हूं.मेरी प्यारी मां हमेशा मुझसे खाने के बारे में पूछती है यानी वह खाना बनाने से पहले मुझसे पूछती है कि तुझे खाने में क्या बनाऊं मेरी मां मुझे अच्छा अच्छा खाना बनाती है यह मेरे लिए बहुत ही खुशी वाली बात है.मेरी प्यारी मां मेरा हर तरह से ख्याल रखती है वह मुझे पढ़ाई के लिए तो कहती है साथ में वह मुझे खेलने के लिए भी कहती है मेरी मां का कहना है कि अगर हम पढ़ाई के साथ में कुछ समय खेल कूंद करें तो स्वास्थ्य बहुत ही अच्छा रहता है.मैं अक्सर मेरे मां के कहे अनुसार पढ़ाई से समय निकालकर खेलता हूं.
मेरी मां अक्सर मुझे कुछ अलग-अलग नामों से पुकारती है उसने मेरे नाम बहुत ही प्यारे रखें हैं. जब वो मुझे उन नामों से पुकारती है तो मुझे बेहद खुशी होती है मैं ऐसा सोचता हूं कि आज भी मैं अपने बचपन में हूं.
बच्चे अक्सर भले ही बड़े हो जाते हैं लेकिन एक मां के लिए छोटे ही होते हैं मेरी मां मेरा हर तरह से ख्याल रखती है मुझसे योगा करने के लिए भी कहती है क्योंकि वह मुझे सेहतमंद देखना पसंद करती है मेरी मां बहुत ही प्यारी है मैं यही चाहता हूं कि दुनिया के हर एक इंसान को मेरी प्यारी मां जैसी ही मां मिले क्योंकि मां से ही एक बच्चे की शुरुआत होती है एक बच्चे के लिए मां सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होती है.मां मुझे बहुत प्यार करती है अक्सर जब मैं किसी बात को नहीं मानता तो वह मुझे डांटती है मुझे यह बहुत ही अच्छा लगता है मुझे खुशी होती है. मेरी मां मेरी खुशी है मेरा सब कुछ है दुनिया के हर एक रिश्ते से बढ़कर मेरी मां का रिश्ता मेरे लिए सबसे बढ़कर है.
मां ममता की मूर्ति होती है यानी उसमें एक बच्चे के लिए प्यार ही प्यार होता है.माँ अपने बच्चे की गलतियों को आसानी से मांफ कर देती है ऐसी ही मेरी मां है.मेरी मां मुझे बहुत प्यार करती है वह मेरी छोटी मोटी गलती हो प्यार में अनदेखा कर देती है.इस दुनिया में मां से बढ़कर कोई सा भी रिश्ता मुझे नजर नहीं आता,मां सबसे प्यारी होती है कहते हैं इस दुनिया में भगवान होता है मैं मानता हूं कि भगवान भी है लेकिन भगवान हम अपनी आंखों से नहीं देख पाते हैं इसलिए भगवान एक मां के रूप में हर बच्चे के साथ रहकर उनकी देखरेख करते हैं.मा भगवान का ही एक रुप है.मेरी मां मेरी भगवान है मेरा सब कुछ है मैं अपनी मां को आदर देता,हम सभी का भी कर्तव्य है कि हम अपनी प्यारी मां का ख्याल रखें सम्मान दें और उनका ख्याल रखें.
दोस्तों अगर आपको हमारी आर्टिकल Meri pyari maa essay in hindi पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंट्स के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Meri pyari maa essay in hindi कैसा लगा,अगर आप हमारी अगली पोस्ट को सीधे अपने ईमेल पर पाना चाहे तो हमें सब्सक्राइब करना ना भूले।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.