जलियांवाला बाग हत्याकांड Jallianwala bagh hatyakand in hindi story

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज हम Jallianwala bagh hatyakand के बारे में जानेंगे.जलियांवाला बाग हत्याकांड सन 1919 में हुआ दरअसल उस समय अंग्रेजों का शासन था अंग्रेज अपनी तानाशाही से हम भारतीयों को तरह तरह से प्रताड़ित करते थे,अंग्रेजों ने उस समय एक रोलेट एक्ट पास किया जिसके तहत कोई भी अंग्रेज किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकते थे और उन्हें जेल में भी डाल सकते थे दरअसल उस समय हमारे भारत देश में अंग्रेजो के खिलाफ तरह-तरह के आंदोलन,तरह-तरह की बैठक होती थी इस वजह से अंग्रेजों ने रौलट एक्ट पारित किया.

Jallianwala bagh hatyakand in hindi story
Jallianwala bagh hatyakand in hindi story

वह हमारे भारत देश में इस तरह के आंदोलन नहीं होने देना चाहते थे इसी रोलेट एक्ट के चलते पंजाब के दो मशहूर नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया जब उनकी गिरफ्तारी हुई तो उसके विरोध में बहुत से लोग प्रदर्शन करने लगे,तरह-तरह के आंदोलन और सभाए इसके विरोध में होने लगी जो अंग्रेजो को बिल्कुल भी पसंद नहीं आया.एक बार जलियांवाला बाग में इसी के चलते एक सभा का आयोजन किया गया वहां पर बहुत सारे लोग आए हुए थे जिनमें औरत,बच्चे,आदमी सभी तरह के लोग थे उसमें हजारों की संख्या में लोग थे जब सभा चल रही थी उसी बीच अंग्रेजी शासन काल के लगभग 50 सिपाहियों ने वहां पर गोलियों से हमला कर दिया और 10 मिनट तक फायरिंग जारी रखी.

10 मिनट में हजारों लोग जलियांवाला बाग में मारे गए.यह एक ऐसा हत्याकांड था जिसे हम भूल नहीं सकते.अंग्रेजी शासन काल में इस घटना की जांच के लिए भी एक कमीशन बनाया गया सभी भारत वासियों ने इस हत्याकांड की बुराई की और लोग इस हत्याकांड के विरोध में सड़कों पर उतर आए और हत्याकांड का विरोध किया इस तरह से हम कह सकते हैं कि जलियांवाला हत्याकांड अंग्रेजी शासनकाल का एक भीषण हत्याकांड है.

Related-पुजारी और डाकू     डाकुओ का हमला prernadayak hindi kahaniya

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल Jallianwala bagh hatyakand in hindi story पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना न भूले और हमें कमेंटस कर यह बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.