मेरा अनोखा सपना पर निबंध Mera anokha sapna essay in hindi

Mera anokha sapna essay in hindi

Ek anokha sapna essay in hindi-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज का हमारा आर्टिकल mera anokha sapna essay in hindi आप सभी के लिए बहुत ही हेल्पफुल है इस निबंध का उपयोग आप अपने स्कूल कॉलेज की परीक्षा में लिखने के लिए यहां से जानकारी ले सकते हैं चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के इस आर्टिकल को

mera anokha sapna essay in hindi
mera anokha sapna essay in hindi

हर इंसान जीवन में सपने जरूर देखता है मैं नींद में देखने वाले सपनों के बारे में बात कर रहा हूं जो सिर्फ काल्पनिक होते हैं हमारी असली जिंदगी से उनका कोई विशेष नाता नहीं होता.नींद में देखे गए तरह तरह के बहुत से सपने ऐसे होते हैं जो बहुत ही अच्छे होते हैं इन अनोखे सपनों के बारे में जब हम सोचते हैं तो हम समझ नहीं पाते कि यह सपना हमने क्यों देखा है क्योंकि वह सपना जिंदगी मैं हमारी सोच से अलग होते हैं जिन्हें देखकर हमें डर भी लगता है और किसी और को सुनाने में मनोरंजन का अनुभव भी होता है आज मैं आपको मेरे जीवन में देखे गए एक अनोखे सपने के बारे में बताऊंगा.
एक अनोखा सपना मैंने तब देखा था जब मेरी 20 साल की उम्र थी एक रात में अपने ऑफिस से घर पर आया तो मैं बहुत ही थक गया था मैंने जल्दी-जल्दी खाना खाया और बिस्तर में छुपकर सो गया उस समय ठंड का मौसम था जिस वजह से बहुत ही कपकपी महसूस हो रही थी मुझे पता भी नहीं लगा कि मेरी नींद कब लग गई अब मैं सपनों की दुनिया में खो चुका था मैंने सपने में देखा कि मैं एक घने जंगल में अपने पूरे परिवार के साथ गया हुआ था.मेरे परिवार में मेरे मम्मी पापा,भाई बहन थे मेरा एक छोटा भाई जिसकी उम्र लगभग 12 yaa 13 साल थी हम सभी उसको बहुत प्यार करते थे जंगल में घूमते हुए अचानक वहां पर एक औरत आ गयी और हमें पता भी नहीं चला कि अचानक ही वह औरत मेरे भाई को लेकर चली गई हमने उस औरत और अपने भाई का बहुत पीछा किया लेकिन हम उस औरत को नहीं पकड़ पाए वह मेरे भाई को लेकर पता नहीं किधर गायब हो गई.

Related- मेरे सपनों का घर पर निबंध Mere sapno ka ghar essay in hindi

जब हम उस औरत को ढूंढने के लिए जा रहे थे तभी अचानक हम सभी एक खाई में जा गिरी जिससे हमारे शरीर पर कुछ चोटे भी आ गयी.उस समय वहां जब हम खड़े हुए तब हमें समझ आया कि हम एक रेगिस्तान में पहुंच चुके हैं जहां पर पेड़ पौधे पानी आदि कुछ नहीं है हमें वहां पर बहुत ही घुटन महसूस हो रही थी तभी हमें उस रेगिस्तान में कुछ अजीब से लोग मिले शायद वह भी बहुत प्यासे थे वह भी पानी की तलाश कर रहे थे हम भी उनकी मदद करने के लिए पानी को इधर-उधर तलाशने लगे तभी एक नदी के किनारे पर पहुंचे जहां पर हमने पानी पिया और पानी पीने के बाद देखा कि नदी के पास में ही एक गुफा है हम उस गुफा के अंदर चले गए उसके अंदर बहुत अंधेरा था जैसे ही हम गुफा के अंदर प्रवेश करते जा रहे थे हमें रोशनी का अनुभव हो रहा था उसके बाद हमने देखा कि हम उसी जंगल में पहुंच गए हैं जहां पर हमारा भाई खोया था जब हम वहां पर पहुंचे तभी हमें वहां पर मेरा भाई दिखाई दिया.हम सभी उसको देखकर बहुत ही खुश हुए और इस तरह से मेरे अनोखे सपने की समाप्ति हुई यह सपना देखने के बाद ही मेरी नींद खुल गई थी वाकई में हम जीवन में बहुत से ऐसे अजीब सपने देखते हैं जिनका मतलब हमें समझ नहीं आता.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल my dream essay in hindi पसंद आए तो शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना न भूले और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा आर्टिकल mera anokha sapna essay in hindi कैसा लगा.अगर आप चाहें हमारे अगले आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाना तो हमें सब्सक्राइब जरूर करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.