नेवला और साँप की कहानी Mongoose and snake panchatantra story in hindi

Mongoose and snake panchatantra story in hindi

Mongoose and snake panchatantra story in hindi-काफी समय पहले की बात है कि एक गांव में एक ब्राह्मण और ब्राह्मणी रहते थे उनका एक लड़का था दोनों अपने लड़के से बहुत प्यार करते थे उन्होंने अपने घर में एक नेवला पाल रखा था वह दोनों उसको भी अपने बच्चे की तरह रखते थे और कहीं पर जाते थे तो उस नेवले को घर की सुरक्षा के लिए छोड़ जाते थे एक दिन की बात है शाम के समय ब्राह्मणी पास के ही कुए से पानी लेने के लिए गई जब वह पानी लेने के लिए गई तभी उसका छोटा बच्चा घर पर सो रहा था उसके पास में नेवला था तभी घर में कही से एक सांप घुस आया.

Mongoose and snake panchatantra story in hindi
Mongoose and snake panchatantra story in hindi

वह उस ब्राह्मणी के बच्चे की ओर बढ़ रहा था इतने में ही उसने उस सांप का रास्ता रोका और उस सांप को मार डाला उसका पूरा मुंह खून से लिपट चुका था ऐसा करने के बाद वह द्वार में जाकर खड़ा हुआ इतने में ही उधर से अपने सिर पर बर्तन रखे पानी भरकर लाई हुई ब्राह्मणी ने जब नेवले का खून से लिपता हुआ मुह देखा तो उसने सोचा कि जरूर ही इसने मेरे बच्चे को मार डाला फिर उसने अपने बर्तन नेवले के ऊपर गिरा दिए और एक लाठी से दे देकर उस नेवले को मार डाला उसके बाद वह कमरे में रोती हुई गई और जैसे ही कमरे में पहुंची तो उसने देखा कि उसका बच्चा आराम से सो रहा था और पास में ही मरा हुआ सांप डला था यह सब देखकर ब्राह्मणी को समझने में ज्यादा समय नहीं लगा वह समझ चुकी थी कि जरूर ये सांप मेरे बच्चे को मारने के लिए आया होगा लेकिन नेवले ने इसको मार डाला.मेने बिना सोचे समझे ही उस बेचारे निर्दोष नेवले को मार डाला इसलिए दोस्तों हमें जीवन में कभी भी बिना सोचे समझे कोई बड़ा काम नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे नुकसान हो सकता है ब्राह्मणी को बाद में बहुत पछतावा हुआ.

Related- हाथी और खरगोश की कहानी hathi aur khargosh ki kahani in hindi

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल Mongoose and snake panchatantra story in hindi पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंट्स कर बताये की आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा अगर आप चाहें हमारे अगले आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाना तो हमें सब्सक्राइब जरूर करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.