लता मंगेशकर की जीवनी Biography of lata mangeshkar in hindi

Biography of lata mangeshkar in hindi

Biography of lata mangeshkar in hindi-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज हम आपको एक ऐसी महान गायिका के बारे में बताने वाले हैं जिन्होंने संगीत की दुनिया में एक ऐसा मुकाम हासिल किया है जो किसी और के लिए पाना बहुत मुश्किल है वह संगीत की दुनिया की एक ऐसी मिसाल हैं जिसकी कहानी पढ़कर हमें जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलती है वह एक महान गायिका है इन्होंने अपनी मेहनत और लगन से आज दुनिया में ऐसा नाम कमाया है कि उनका नाम हमेशा हमेशा के लिए अमर हो चुका है जब तक दुनिया रहेगी तब तक उन्हें याद किया जाएगा लोग उनकी आवाज को भूले नहीं भूल पाएंगे तो चलिए पढ़ते हैं आज हम इस महान गायिका लता मंगेशकर की जीवनी

Biography of lata mangeshkar in hindi
Biography of lata mangeshkar in hindi

Image source- https://commons.wikimedia.org/wiki/File:Lata_Mangeshkar_-_still_29065_crop.jpg

लता मंगेशकर का जन्म इंदौर शहर में 28 सितंबर 1929 को हुआ था उनके पिता का नाम दीनानाथ मंगेशकर था जो कि एक रंगमंच के नाटक और गायक थे वह बचपन में अपने शिष्यों को गाना सिखाया करते थे इसी के साथ में उन्हें ज्योतिष विद्या का भी विशेष ज्ञान था एक बार लता मंगेश्वर जी से बचपन में उन्होंने कहा की बेटी तू बड़ी होकर दुनिया में बहुत कुछ करेगी लेकिन पूरे परिवार की जिम्मेदारी तुझ ही पर आएगी तेरी कभी शादी नहीं होगी.लता मंगेशकर बचपन में अपने पिता के द्वारा शिष्यों को सिखाए गए गानों को सीखती थी लेकिन एक बार उनके पिता को ज्ञात हुआ कि मेरे घर में ही एक महान गायिका है उन्होंने अपनी बेटी को भी गाना गाना सिखाया और वह दोनों मिलकर रंगमंच पर गाना गाने लगे.बचपन में उनके गानों को सुनकर उनके पिता भी बहुत खुश होते थे सब कुछ अच्छा चल रहा था लेकिन जब वह 13 साल की थी तब उनके पिता की मृत्यु हो गई पिता की मृत्यु के बाद पैसो के लिए बहुत सारी परेशानियां झेलनी पड़ी क्योंकि उनके भाई बहनों की जिम्मेदारी उन पर ही आ गई थी.

उन्हें फिल्मों में एक्टिंग करना बिल्कुल भी पसंद नहीं था लेकिन उनके पिता की असमय मृत्यु हो जाने के बाद परिवार की जिम्मेदारी संभालने के लिए उन्होंने 1942 में एक फिल्म में काम किया उसके बाद भी उन्होंने कुछ फिल्में की लेकिन लता मंगेशकर अपने सपने को पूरा करना चाहती थी वह एक गायिका बनना चाहती थी इसके लिए उन्होंने एक निर्माता से मुलाकात की लेकिन निर्माता ने उन्हें यह कहकर गाने का मौका नहीं दिया की आपकी आवाज प्लेबैक सिंगिंग के लिए नहीं है लेकिन लता मंगेशकर उनकी इस बात से निराश नहीं हुई इस बीच उनके मास्टर गुलाम हैदर ने इनकी बहुत मदद की.गुलाम हैदर ने इन्हें एक सबसे बड़ा सिंगर बनाने का विचार किया और सोचा कि तेरी आवाज हर जगह गूंजेगी.

Related- गुलशन कुमार की जीवनी Gulshan kumar biography in hindi

इसके बाद लता मंगेशकर जी को 1947 में एक फिल्म में गाना गाने का मौका मिला इस फिल्म में लता मंगेशकर जी के गाए हुए गानों की बहुत चर्चा हुई लता मंगेशकर की चारों और प्रशंसा की गई इसके बाद लता मंगेशकर जी ने और भी बहुत सारे गाने गाए इसके बाद उन्होंने लेकिन फिर भी इन्हें एक बहुत बड़ी सफलता की तलाश थी कुछ समय बाद फिल्म महल रिलीज हुई जिसमे लता मंगेशकर के द्वारा गाया जाने वाला गाना “आएगा आने वाला” काफी फेमस हुआ इसकी चारों ओर तारीफ की गई यह गाना लता मंगेशकर जी के कैरियर को एक बहुत बड़ी सफलता की ऊंचाई पर पहुंचा गया.

कुछ समय बाद लता मंगेशकर जी की तबीयत ज्यादा खराब होने लगी जब उन्होंने एक डॉक्टर से अपना चेकअप करवाया तब उन्हें पता लगा की उनके खाने में कोई धीमा धीमा जहर डालता है दरअसल एक रसोईया उनके खाने में कम कम जहर डालता था लता जी के बीमार पड़ने के बाद वह घर छोड़कर चला गया था लता मंगेशकर जी ने बहुत सारे गाने गाए,बहुत सारे धार्मिक गाने गाए जो आज बहुत ही प्रसिद्ध हैं वाकई में लता मंगेशकर संगीत की दुनिया की ऐसी जीती जागती मिसाल हैं जिसकी जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है.
लता मंगेशकर का गाना ए मेरे वतन के लोगों जरा आंख में भर लो पानी एक बहुत ही बेहतरीन गाना है जो हर भारतीय की आंखों में आंसू ला सकता है उन्होंने अपने जीवन में बहुत से भजन गाये जो हमेशा हमेशा के लिए उनकी आवाज के लिए जाने जाते हैं इन्होने श्री राम,श्री कृष्ण,साईं बाबा और अंबे मां पर बहुत ही बेहतरीन भजन गाए हैं.
इन्हें अपने गाए हुए गानों की वजह से बहुत सारे पुरस्कार मिले हैं जैसे कि इन्हें फिल्मफेयर पुरस्कार मिला है राष्ट्रीय पुरस्कार एवं पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया है इसके अलावा भी बहुत सारे पुरस्कार इन्हें मिले हैं वाकई में लता मंगेशकर संगीत की दुनिया की ऐसी मूर्ति है जिन्होंने अपने जीवन में इतनी बड़ी सफलता प्राप्त करके हम सभी को सफलता पाने के लिए प्रेरित किया है हम सभी को जब भी अपने द्वारा किए हुए काम में असफलता मिलती है तो हम समझते हैं कि हममें वह गुण नहीं है कि हम सफल हो सके लेकिन लता मंगेशकर की तरह अगर हम लगातार प्रयत्न करें तो उसी काम में हम सबसे आगे बढ़ सकते हैं और हम इतने आगे बढ़ सकते हैं कि हम उसके वजह से दुनिया में हमेशा हमेशा के लिए अमर हो सकते हैं.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल Biography of lata mangeshkar in hindi पसंद आए तो शेयर जरुर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंट के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Biography of lata mangeshkar in hindi कैसा लगा अगर आप चाहें हमारे अगले आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर आना तो हमें सब्सक्राइब जरूर करें.अगर आपको हमारे द्वारा लिखे गए इस आर्टिकल में कुछ भी गलत लगा हो तो हमें कमेंट कर बताएं हम तुरंत उसे अपडेट करेंगे.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.